Violence in Haryana नूंह में हिंसा के बाद हाई अलर्ट जारी, 5 जगहों पर इंटरनेट ठप, सीएम खट्टर बोले, संपत्ति को नुकसान पहुंचाने वालों से की जाएगी भरपाई

हिंसा की आग में झुलसा नूह

Violence in Haryana (हरियाणा) नूंह में हिंसा के बाद हाई अलर्ट जारी, 5 जगहों पर इंटरनेट ठप, सीएम खट्टर बोले, संपत्ति को नुकसान पहुंचाने वालों से की जाएगी भरपाई 

नूंह (हरियाणा) Violence in Haryana  में हुई हिंसा अब सियासती रुख अख्तियार करती जा रही है। सीएम मनोहर लाल ने इस घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए साजिश करार दिया है।

नूह हिंसा
(हरियाणा) नूंह में हिंसा

वहीं, विश्व हिंदू परिषद की ओर से मेवात में हुई हिंसा के विरोध में 2 अगस्त बुधवार को देशभर में प्रदर्शन करने की बात कही गई है। वहीं, कथावाचक धीरेंद्र शास्त्री ने कहा कि आरोपियों के घर में भी बुलडोजर चलने चाहिए।

नूंह में जलाभिषेक यात्रा के दौरान भड़की हिंसा की आग हरियाणा के कई शहरों में पहुंच गई है। हिंसा में छह लोगों की मौत हो गई है। नूंह में स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है। आरोपियों की धरपकड़ व शांति के लिए अर्धसैनिक बलों की 20 व पुलिस बल की 20 कंपनियां तैनात की गई हैं।

नूंह में कर्फ्यू जारी हैआसपास के शहरों में धारा 144 लगाई गई है। हरियाणा के पलवल, सोहाना, मानेसर और पटौदी में इंटरनेट बंद है। विश्व हिंदू परिषद ने हिंसा के विरोध में आज देशव्यापी प्रदर्शन भी बुलाया है। हरियाणा में हिंसा को देखते हुए यूपी के 11 जिलों में अलर्ट किया गया है। मामले में डेढ़ हजार से अधिक लोगों के खिलाफ तीस एफआईआर दर्ज की हैं।

हरियाणा (Violence in Haryana )के पांच जगहों पर इंटरनेट ठप :–

  1. नूंह
  2. पलवल
  3.  सोहाना
  4. मानेसर
  5. पटौदी
    Violence in haryana
    Violence in Haryana

 हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर ने कहा :–

अभी हमारे पास 20 केंद्रीय बलों की कंपनियां हैं। इनमें 14 नूंह, तीन पलवल, दो फरीदाबाद और एक गुरुग्राम में तैनात है। केंद्र से तीन पैरामिलिट्री फोर्स की कंपनियां और मांगी हैं। नूंह में एक आईआरबी बटालियन पूर्ण रूप से स्थापित की जाएगी। किसी भी दोषी को बख्शा नहीं जाएगा, अभी तक 116 लोगों को गिरफ्तार किया गया, 90 लोग को हिरासत में लिया गया है। मोनू मानेसर की तलाश में मदद के लिए हम तैयार

राजस्थान सरकार ने बजरंग दल के मोनू मानेसर के खिलाफ एफआईआर दर्ज की थी। हमने उनसे कहा है कि उसकी तलाश के लिए जो भी मदद की जरूरत होगी वह हम मुहैया कराएंगे।संपत्ति को नुकसान पहुंचाने वालों से की जाएगी भरपाई

सीएम मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि हमने एक कानून बनाया है जिसमें हिंसा (Violence in Haryana ) के दौरान जिन लोगों ने संपत्ति को नुकसान पहुंचाया है वे इसकी भरपाई के लिए उत्तरदायी हैं। नूंह हिंसा के दौरान सार्वजनिक संपत्ति को क्षति पहुंचाने वाले लोगों से नुकसान की भरपाई की जाएगी। निजी संपत्ति के लिए भी हम कहेंगे कि उन लोगों से मुआवजा वसूला जाए जो इसके लिए उत्तरदायी हैं। 

स्थिति की समीक्षा के बाद स्कूल-कॉलेज खोलने को लेकर होगा फैसला: डिप्टी कमिश्नर

नूंह के डिप्टी कमिश्नर प्रशांत पवार का कहना है कि हम स्थिति की समीक्षा करेंगे और फिर क्षेत्र में स्कूलों और कॉलेजों को फिर से खोलने पर फैसला करेंगे। क्षेत्र में स्थिति की समीक्षा के बाद इंटरनेट सुविधा भी फिर से शुरू की जाएगी। अर्धसैनिक बल के 14 बल और लगभग हरियाणा पुलिस की 20 कंपनियां यहां तैनात हैं। आज हम उन सभी इलाकों में दोपहर 3-5 बजे के बीच छूट देंगे जहां कर्फ्यू लगा हुआ है। हम इस छूट के समय की समीक्षा करेंगे।

सुप्रीम कोर्ट पहुंचा नूंह हिंसा (Violence in Haryana) मामला

नूंह हिंसा को लेकर देश के अलग-अलग जगहों पर निकाली गई बजरंग दल और विश्व हिंदू परिषद की रैलियों का मामला अब सुप्रीम कोर्ट पहुंचा। सर्वोच्च न्यायालय में याचिका दाखिल कर मांग की वीएचपी और बजरंग दल के विरोध प्रदर्शनों पर रोक लगाई जाए।

पिछले दो दिनों में 15 FIR दर्ज की गई-ACP

गुरुग्राम ACP क्राइम वरुण दहिया ने कहा कि पिछले दो दिनों में 15 FIR दर्ज की गई हैं। 31 जुलाई को हुई घटना के बाद ऐसी घटनाओं में काफी कमी आई है। हम हॉटस्पॉट और संवेदनशील इलाकों पर कड़ी नजर रख रहे हैं… अब तक 8 लोगों को गिरफ्तार किया गया है और 30 लोगों के खिलाफ प्रतिबंधात्मक कार्रवाई की गई है। गुरुग्राम के सेक्टर 57 स्थित अंजुमन मस्जिद में भीड़ ने इकट्ठा होकर इस घटना को अंजाम दिया जिसमें 2 लोग घायल हुए थे और एक की मौके पर ही मौत हो गई, दूसरे व्यक्ति की हालत स्थिर है।

दिल्ली में बजरंग का प्रदर्शन

विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी) ने हरियाणा के नूंह में हाल ही में हुई हिंसक (Violence in Haryana) झड़पों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन का आह्वान किया। जिसके बाद बजरंद दल ने दिल्ली के घोंडा चौक पर विरोध प्रदर्शन किया। इस बीच पुलिस बल मौके पर मौजूद रहा। वहीं, डीसीपी नॉर्थ ईस्ट, जॉय टिर्की का कहना है कि दिल्ली मौजपुर चौक और नॉर्थ ईस्ट डिस्ट्रिक्ट के अन्य इलाकों में स्थिति सामान्य है।

सिटी बस की सारी बस सेवाएं बंद

रोडवेज की जो बसे हैं वह बदरपुर बॉर्डर के पुल के ऊपर से निकली जा रही हैं। वहीं सिटी बस की सारी बस सेवाओं को बंद कर दिया गया है। अभी कुछ समय के लिए जब तक अधिकारियों के आदेश आने के बाद बसों को शुरू किया जाएगा।

उपद्रवियों ने दुकानों में लगाई आग

गांव धौज में उपद्रवियों ने कुछ दुकानों में आग लगा दी है। मौके पर भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।अर्ध सैनिक बल की दो टुकड़ियों को लगाया गया है।

https://sarkarirozi.com/index.php/2023/04/21/kvs-tgt-pgt-prt-principal-music-result/?amp=1

Please read more 

https://nsvnews.com/ 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *