Israel Attack : इजरायल हमले में 198 फिलिस्तीन के नागरिकों की मौत और 1612 नागरिकों घायल

इजरायल अटैक

Israel Attack : इजरायल हमले में 198 फिलिस्तीन के नागरिकों की मौत और 1612 नागरिकों घायल, हमास के एक आतंकी को जिंदा पकड़ा 

 

Israel Attack:

इजराइल-फिलिस्तीन संघर्ष की आग एक बार फिर से धधक उठी है। शनिवार (07 अक्टूबर) की सुबह गाजा पट्टी पर कब्जा रखने वाले हमास के लड़ाकों ने दावा किया कि उसने इजराइल के शहरों पर 20 मिनटों मे लगातार 5 हजार रॉकेट दागे हैं।

इजरायल अटैक
इजरायल अटैक

Israel:– 

नेतन्याहू ने अपने संबोधन में देशवासियों से कहा, “हम युद्ध में हैं..किसी ऑपरेशन या राउंड में नहीं, बल्कि युद्ध में। आज सुबह हमास ने इस्राइल और उसके नागरिकों के खिलाफ जानलेवा आश्चर्यजनक हमला किया है।”

20 मिनट में 5000 से अधिक दागे रॉकेट: हमास

हमास ने शनिवार को हुए हमलों को लेकर कहा कि उसने 20 मिनट के पहले हमले में 5,000 से अधिक रॉकेट दागे हैं। खबरों के मुताबिक, अब तक चार लोगों की मौत होने की पुष्टि हो चुकी है।

इसराइल पर फिलिस्तीनी चरमपंथी गुट हमास की ओर से रॉकेट से किए गए भारी हमले में 40 इसराइली नागरिकों की मौत हुई है और 500 से अधिक लोग घायल हुए है।

और दूसरी तरफ इजरायल हमले ने 198 फिलिस्तीन के नागरिकों की मौत हुई और लगभग 1612 नागरिक घायल हुऐ है। और हमास के एक नागरिक को जिन्दा पकड़ा है।

हमास के प्रमुख दाइफ ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है और ‘ऑपरेशन’ को अल अक़्सा स्टॉर्म नाम दिया है। मोहम्मद दाइफ ने कहा, “हम दुश्मन को पहले ही चेतावनी दे चुके हैं। इजराइलियों ने हमारे लोगों के साथ सैंकड़ों नरसंहार किए हैं।”

इसराइल अटैक
हमास ने किया इसराइल अटैक

उन्होंने आगे कहा, “हम ऑपरेशन अल अक्सा फ्लड की शुरुआत की घोषणा करते हैं। हम ये घोषणा करते हैं कि दुश्मन के ठिकानों, एयरपोर्ट्स, सैन्य अड्डों पर किए गए हमारे पहले हमले में पांच हज़ार से अधिक रॉकेट दागे गए हैं।” भारत में इजराइल के राजदूत नाओर गिलोन ने भी हमले पर प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने ट्वीट के जरिए कहा, “यहूदियों के त्योहार के दिन इजरायल दोहरे हमले की चपेट में है।हमास के चरमपंथी और रॉकेट दोनों हमले कर रहे हैं।”

हमास की ओर से किए गए ताजा रॉकेट हमलों के बाद एक बार फिर इस्राइल और फिलिस्तीन के बीच तनाव बढ़ गया है। इसको लेकर इस्राइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू का बयान सामने आया है। इसमें उन्होंने कहा कि देश युद्ध में हैं और वह अपने दुश्मन से इसकी कीमत वसूलेगा। हमास एक फिलिस्तीनी विद्रोही गुट है।

 

नेतन्याहू ने टेलीविजन से राष्ट्र को किया संबोधित

नेतन्याहू ने टेलीविजन पर अपने संबोधन में देशवासियों से कहा, “हम युद्ध में हैं..किसी ऑपरेशन या राउंड में नहीं, बल्कि युद्ध में। आज सुबह हमास ने इस्राइल और उसके नागरिकों के खिलाफ जानलेवा आश्चर्यजनक हमला किया है। हम सुबह से ही इसमें लगे हुए हैं।” इस्राइली प्रधानमंत्री ने कहा, “मैंने सुरक्षा प्रतिष्ठानों के प्रमुखों को बुलाया है और सबसे पहले उन इलाकों खाली करने का आदेश दिया है, जहां आतंकवादियों द्वारा घुसपैठ की गई है।”

रॉकेट हमलों में दो सौ इस्राइली घायल: स्थानीय मीडिया

स्थानीय मीडिया की खबरों में कहा गया है कि सुबह से हमलों में करीब 200 इस्राइली घायल हुए हैं और कई मारे गए हैं। कुछ खबरों में कहा गया है कि इस्राइल पुलिस के अनुमान के मुताबिक, 14 अलग-अलग स्थानों पर लगभग 60 घुसपैठियों का पता चला है। लोगों को बंधक बनाए जाने और सैनिकों के अपहरण की अपुष्ट खबरें आ रही हैं। 

क्या है संघर्ष की वजह?

साल 1947 में संयुक्त राष्ट्र ने फिलिस्तीन को दो हिस्सों में बांट दिया। इसका एक हिस्सा यहूदियों को दिया गया जबकि दूसरा हिस्सा अरब समुदाय के लोगों को दिया, जिसमें अधिकतर लोग इस्लाम को मानते हैं।14 मई 1948 को यहूदियों ने अपने हिस्से को एक अलग देश घोषित कर दिया, जिसका नाम इजराइल रखा गया। इस फैसले से अरबी समुदाय खुश नहीं था, लिहाजा युद्ध की घोषणा हुई और लाखों फिलिस्तीनी बेघर हो गए।

https://nsvnews.com/asian-games-record-

 

 

https://sarkarirozi.com/index.php/2023/06/02/bihar-bpsc-school-teacher-primary-tgt-pgt-recruitment-2023-apply-online-for-170461-post/?amp=1

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *