Bihar Train Accident:– बिहार हादसे में 8 लोगो को मौत और 100 से ज्यादा लोग घयाल

Bihar accident

Bihar Train Accident:–बिहार हादसे में 8 लोगो को मौत और 100 से ज्यादा लोग घयाल 

बिहार में बक्सर-आरा के बीच रघुनाथपुर के पास बुधवार रात भीषण ट्रेन हादसा हो गया। दिल्ली से गुवाहाटी जा रही आनंद विहार कामाख्या नॉर्थ ईस्ट एक्सप्रेस की सभी बोगियां पटरी से उतर गईं, जिनमें से दो बोगी पलट गईं।

बिहार के बक्सर जिले में नॉर्थ-ईस्ट एक्सप्रेस ट्रेन अचानक से रघुनाथपुर रेलवे स्टेशन के पास डिरेल हो गई। देखते ही देखते ट्रेन के 6  डिब्बे पटरी से उतर गए।हादसे के बाद वहां चीख पुकार मच गई । इसमें 8 लोगों की मौत हो गई। जबकि, 100 से ज्यादा लोग घायल हो गए। इनमें से 20 लोगों की हालत गंभीर बनी हुई है। और उन्हें पटना एम्स रेफर कर दिया गया है। हादसा कैसे हुआ, इस बारे में ट्रेन के गार्ड ने बताया।

Bihar  accident
Bihar train accident

डिरेल हुई ट्रेन के गार्ड विजय कुमार  ने बातचीत के दौरान हादसे का आंखो देखा हाल बताया। उन्होंने बताया कि ट्रेन नॉर्मल स्पीड से चल रही थी। मैं बैठ कर अपना कुछ कागजी काम कर रहा था। तभी अचानक से एक ब्रेक लगी और ट्रेन में धीरे-धीरे झटके आने लगे। फिर एक बड़ा झटका लगा। मैं उसी समय बेहोश हो गया। पांच मिनट बाद मुझे होश आया तो मैंने अपनी आंखों पर पानी से छींटे मारी। मुझे यह नहीं पता कि ड्राइवर ने अचानक से ब्रेक क्यों मारी। इस बारे में वो ही अच्छे से बता सकता है कि ऐसा क्यों हुआ और क्यों उसे इस तरह ट्रेन को ब्रेक मारनी पड़ी।

हादसा होते ही आस पास के लोग और पुलिस की टीम रेस्क्यू के लिए पहुंची। घायलों को तुरंत नजदीकी अस्पताल ले जाया गया।जहां से गंभीर रूप से घायल 20 लोगों को पटना एम्स रेफर कर दिया गया है।आशंका जताई जा रही है कि मौत का आंकड़ा बढ़ सकता है।

इस रेल हादसे में चार लोगों की मौत हो गई और 100 से ज्यादा घायल हुए हैं। इनमें से 20 लोगों को पटना रेफर किया गया, जहां उनका इलाज चल रहा है। ऐसी स्थिति में मृतकों की संख्या बढ़ने की आशंका है।

राहत और बचाव कार्य जारी है। जहां हादसा हुआ है, वहां पटरियां उखड़ कर इधर-उधर जा गिरी हैं। पटना, आरा और बक्सर से रेलवे की बचाव टीम के साथ ही बक्सर और आरा जिले के अधिकारी मौके पर मौजूद हैं।

HIGHLIGHTS

  • बक्सर में भीषण हादसे का शिकार हुई आनंद विहार-कामाख्या एक्सप्रेस।
  • नार्थ ईस्ट एक्सप्रेस की सात बोगियां पटरी से उतर गई।
  • आठ लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि करीब 100 यात्री घायल।

दुर्घटना के कारण

दुर्घटना के कारणों का पता अभी नहीं चल पाया है। इस ट्रेन के दुर्घटनाग्रस्त होने से थोड़ी देर पहले पटना-दिल्ली राजधानी एक्सप्रेस, संपूर्ण क्रांति, और राजेंद्रनगर अजमेर जियारत एक्सप्रेस यहां से गुजर चुकी थीं।

ऐसे में तकनीकी विशेषज्ञ प्रथमदृष्ट्या प्वांइट फेल्योर का अनुमान लगा रहे हैं। कि प्वाइंट से ही ट्रैक बदला जाता है। हालांकि आधिकारिक रूप से यह नहीं कहा गया है। दुर्घटना के बाद ट्रेनों का परिचालन ठप हो गया है।

 

ट्रेन में सवार अलीगढ़ से दार्जि¨लग जा रहे यात्री कैलाश शर्मा ने बताया कि अचानक जोरदार विस्फोट की आवाज सुनाई दी और सब कुछ उलट-पुलट हो गया।

ट्रेन में सवार पीड़ित यात्री ने बया किया अपना दर्द, क्या कहा?

Bihar accident
Bihar accident

आनंद विहार से किशनगंज जा रहे मो. नासिर ने बताया कि वे बी-7 कोच में थे। मैं खाना खाने के बाद सो गया। दुर्घटना कब और कैसे हुई, मुझे कुछ पता नहीं। जब तेज आवाज के साथ बोगी पलट गई तब मुझे पता चला।

उन्होने बताया की उनके भाई अबू जैद की मृत्यु हो चुकी हैं। शव बोगी में फंसा था, जिसे निकालने का प्रयास किया जा रहा था। इसी कोच के नीचे दो शव और थे। इसमें एक शव लड़की का था। शव निकालने के लिए गैस कटर का प्रयोग किया जा रहा था।

पीड़ितो से है सहानुभूति’

बिहार रेल हादसे को लेकर जदयू अध्यक्ष ललन सिंह ने कहा कि पीड़ितों और घायलों के साथ पूरी सहानुभूति है। दुर्घटना की सूचना मिलते ही राज्य सरकार ने तुरंत मेडिकल टीम और बक्सर-आरा-पटना के जिलाधिकारी को अलर्ट किया। सरकार की ओर से राहत बचाव शुरू किया गया।

बता दें कि सांसद गुरुवार को 245 योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास करने मुंगेर पहुंचे थे।

राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि कुछ महीने पहले ओडिशा में भीषण रेल दुर्घटना हुई, उसमें कोई कार्रवाई नहीं हुई। प्रधानमंत्री को नॉर्थ ईस्ट हादसे पर बोलने की जरूरत है। वह खुद अपनी प्रशंसा में लगे हुए हैं।

https://nsvnews.com/%e0%a4%85%e0%a4%82%e0%a4%a4%e0%a

 

 

https://sarkarirozi.com/index.php/2023/06/02/bihar-bpsc-school-teacher-primary-tgt-pgt-recruitment-2023-apply-online-for-170461-post/?amp=1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *